कोई विधेयक धन विधेयक है या नहीं इसका निर्णय कौन करता है?

(A) राष्ट्रपति
(B) प्रधानमंत्री
(C) लोकसभा अध्यक्ष
(D) केंद्रीय वित्त मंत्री

parliament
Correct Answer : लोकसभा अध्यक्ष
Explanation : किसी विधेयक धन विधेयक होने या ना होने का निर्णय लोकसभा अध्यक्ष करता है और उसका निर्णय अंतिम होता है। इस निर्णय को न्यायालय सदन या राष्ट्रपति अस्वीकार नहीं करता है जब राष्ट्रपति के समक्ष विधेयक को भेजा जाता है तब उस पर लोकसभा अध्यक्ष द्वारा धन विधेयक लिखा होता है। धन विधेयक केवल लोकसभा में ही पेश किए जा सकते हैं लोकसभा से पास होने के बाद धन विधेयक को राज्यसभा में भेजा जाता है और राज्यसभा धन विधेयक को न तो उसे अस्वीकार कर सकती है और न ही उसमें कोई संशोधन कर सकती है वह कुछ सिफारिशों के साथ भेज सकती है।
Useful for Exams : UPSC, State PSC, IBPS, SSC, Railway, NDA, Police Exams
Like The Facebook Page CurrentGK for Current Affairs, Latest GK & Employment News
Web Title : koi vidheyak dhan vidheyak hain ya nahin iska decision kaun karta hai
Always Ask Questions
Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *