प्रच्छन्न (छिपी) बेरोजगारी का परिणाम क्या होता है?

(A) लेन-देन की लागत में वृद्धि
(B) बाजार में लेन-देन की कम क्षमता
(C) कुल उत्पादन में गिरावट
(D) अनुत्पादक कर्मचारियों की संख्या में वृद्धि

Correct Answer : कुल उत्पादन में गिरावट
Question Asked : उत्तर प्रदेश कांस्टेबल भर्ती परीक्षा
Explanation : प्रच्छन्न यानि छुपी हुई बेरोजगारी वह स्थिति है, जब एक श्रमिक अपनी क्षमता का पूरा उपयोग नहीं कर पाता। जिससे कुल उत्पादन में गिरावट आ जाती है। प्रच्छन्न बेरोजगारी के चलते ग्रामीण लोग कृषि छोड़कर शहरों में कार्य करने चले जाते है और शहरी लोग अलग अलग व्यापार न कर सकने के चलते एक ही व्यापार में जुड़ जाते है।
Useful for Exams : UPSC, State PSC, IBPS, SSC, Railway, NDA, Police Exams
Like The Facebook Page CurrentGK for Current Affairs, Latest GK & Employment News
Web Title : what is the result of disguised unemployment
Always Ask Questions
Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *